भाग्य की रेखा सुधारने वाला उपाय

pradeep mishra ji

नमः शिवाय:

श्री शिवाय नमस्तुभ्यं

पंडित श्री प्रदीप मिश्रा जी (सीहोरे वाले) द्वारा श्री शिव महापुराण की कथा में बताये कुछ अचूक उपाय लिखित रूप में

भाग्य की रेखा सुधारने वाला उपाय

  • बेल पत्र की बीच वाली पत्ती पर चंदन लगाना है।
  • तीनों पत्तियों का मिलन जिस जगह पर होता है उस बिंदु पर शहद लगाना है।
  • इस तरह से चंदन और शहद लगाकर बेल पत्र शिवजी के शिवलिंग पर समर्पित करने से हमारे भाग्य की रेखा बदल जाती है, फिर चाहे यह कितनी भी विपरीत रेखा हो।

इस तरह के और उपाय पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे 

Written by 

Leave a Reply

Your email address will not be published.