02 अगस्त 2022 (नाग पंचमी): सावन की पंचमी का अदभुत उपाय

pradeep mishra ji

नमः शिवाय:

श्री शिवाय नमस्तुभ्यं

पंडित श्री प्रदीप मिश्रा जी (सीहोरे वाले) द्वारा श्री शिव महापुराण की कथा में बताये कुछ अचूक उपाय लिखित रूप में

सावन की पंचमी का अदभुत उपाय

  • सावन माह में आने वाली पंचमी तिथि (कोई सी भी हो, कृष्ण पक्ष या शुक्ल पक्ष) को शंकर भगवान को कावड़ जल अवष्य समर्पित करना चाहिए।
  • अगर परिवार का कोई एक भी सदस्य कावड़ जल समर्पित कर देता है तो परिवार का कोई भी सदस्य सर्प की योनि या प्रेत योनि में नहीं पड़ता, और प्रेत/सर्प योनि से मुक्ति भी मिल जाती है।
  • कावड़ जल का मतलब होता है दोनो हाथ में एक-एक कलश जल लेकर शिवलिंग पर एक साथ दोनों कलश से जल समर्पित करना।

हर हर महादेव

इस तरह के और उपाय पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

Written by 

Leave a Reply

Your email address will not be published.